Monday, October 22, 2018

इंदिरा गांधी की जीवनी - Indira Gandhi biography In Hindi

  Abhimanyu Bhardwaj       Monday, October 22, 2018
इंदिरा गांधी(Indira Gandhi ) का जन्‍म 19 नवम्‍बर, 1917 को अल्‍लाहाबाद (इलाहाबाद) में हुआ था और इनकी मृत्‍यु 31 अक्‍टूबर, 1984 में हुई थी। इनके पिता का नाम पंडित जवाहरलाल नेहरू और माता का नाम कमला जवाहरलाल नेहरू था। इंदिरा गांधी (Indira Gandhi ) भारत की प्रथम महिला प्रधानमंत्री थीं और अब तक प्रधानमंत्री के पद को ग्रहण करने वाली एकमात्र महिला हैं और अब तक प्रधानमंत्री के पद को ग्रहण करने वाली एकमात्र महिला हैं। इनका विवाह फिरोज गांधी के साथ 1942 में हुआ था। देश की आयरन लेडी कही जाने वाली इंदिरा गांधी के जीवन से सं‍बंधित कुछ तथ्‍य और रोचक जानकारी निम्‍न प्रकार हैं।

इंदिरा गांधी की जीवनी - Indira Gandhi biography In Hindi

यह भी पढ़े

बचपन और प्रारंभिक शिक्षा (Childhood And Early Education)

इंदिरा गांधी(Indira Gandhi )  जवाहरलाल नेहरू की अकेली बेटी थीं इनका एक भाई भी था जिसकी बचपन में ही मौत हो गई। इंदिरा गांधी(Indira Gandhi ) इलाहाबाद के आंनद भवन में ही पली-बढ़ी हैं। इनका बचपन अकेलेपन से भरा पड़ा था, क्‍योंकि पिता राजैनितिक होने की वजह से या तो घर से बाहर रहते थे या फिर जेल में। इनकी माता बीमारी से ग्रस्‍त होने के कारण पलंग पर ही रहती थी और बाद में इनकी माता की मृत्‍यु टयूबकुलोसिस की बीमारी होने से हुई। इनकी प्रारंभिक शिक्षा इलाहाबाद, पुणे, बम्‍बई, कोलकाता में हुई और उच्‍च शिक्षा के लिए इग्‍लैण्‍ड के ऑक्‍सफोर्ड विश्‍वविद्यालय में प्रवेश लिया, लेकिन कुछ कारणवंश उन्‍हें उपाधि लिए बगैर ही भारत लौटना पड़ा। ग्रेट ब्रिटेन में रहते हुए, इंदिरा गांधी अपने भविष्‍य में होने वाले पति फिरोज गांधी से मिली। जिन्‍हें वह इलाहाबाद से जानती थीं और वर्ष 1942 में इन दोनों की शादी हुई।

राजनैतिक जीवन (Political Life)

इग्‍लैण्‍ड से लौटने के बाद इंदिरा गांधी राजनीति में सक्रिय हो गई और वर्ष 1950 के अंत, इंदिरा गांधी ने कांग्रेस पार्टी के अध्‍यक्ष के रूप में अपनी सेवा दी। उन्‍होंने केरल राज्‍य अलग से बनाने की भी कोशिश की, लेकिन सरकार ने इस मांग को ठुकरा दिया। वर्ष 1964 में पिता की मृत्‍यु के बाद उन्‍हें राज्‍य सभा का सदस्‍य नियुक्‍त किया गया। बाद में लाल बहादुर शास्‍त्री के कैबिनेट की सदस्‍य बनीं। 1966 में लाल बहादुर शास्‍त्री की मृत्‍यु के बाद, कांग्रेस पार्टी ने मोरारजी देसाई की जगह इंदिरा गांधी(Indira Gandhi )  को अपने नेता के रूप में स्‍वीकार किया और वर्ष 1966 से 1977 तक लगातार 3 बार इंदिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री रहीं। इंदिरा गांधी ने 1975 से 1977 तक राज्‍यों में आपातकाल की स्थिति घोषित की और सभी राज्‍यों में इसे लागू करने का भी आदेश दिया था।

इंदिरा गांधी की हत्‍या (The assassination of Indira Gandhi)

इंदिरा गांधी(Indira Gandhi ) की हत्‍या इनके ही अंगरक्षक सतवंत सिंह और बेअंत सिंह ने 31 अक्‍टूबर, 1984 को गोली मारकर कर दी। इंदिरा गांधी एक देश प्रेमी थीं और देश सेवा उनमें कूट-कूट के भरी थीं।इंदिरा गांधी से जुड़े कुछ रोचक तथ्‍य और पुरस्‍कार इंदिरा गांधी ने जुलाई 1969 में बैंकों का राष्‍ट्रीयकरण करवाया।इंदिरा गांधी ने पाकिस्‍तान के राष्‍ट्रपति जुल्फिकार अली भुटृों को शिमला शिखर वार्ता के लिए आमंत्रित किया।वर्ष 1974 में राजस्‍थान के पोखरण में भूमिगत सफल परमाणु परीक्षण किया गया।वर्ष 1971 में इंदिरा गांधी को भारत के सर्वोच्‍च सम्‍मान भारत रत्‍न से नवाजा गया।
Tag- Indira Gandhi Biography in Hindi, 
logoblog

Thanks for reading इंदिरा गांधी की जीवनी - Indira Gandhi biography In Hindi

Previous
« Prev Post

No comments:

Post a Comment